Motivational Stories

संघर्ष ही जीवन है।

Personality Development Services in Jaipur, Personality Development Classes in Jaipur, Personality Development Institute in Jaipur

संघर्ष ही जीवन है जीवन संघर्ष का ही दूसरा नाम है इस सृष्टि में छोटे से छोटे प्राणी से लेकर बड़े से बड़े प्राणी तक सभी किसी ना किसी रूप में संघर्षरत है जिसने संघर्ष (Struggle) करना छोड़ दिया वह मृतप्राय हो गया ।

जीवन में संघर्ष है प्रकृति के साथ स्वयं के साथ परिस्थितियों के साथ तरह-तरह के संघर्षों का सामना आए दिन हम सब को करना पड़ता है ।

और इनसे जूझना होता है जो इन संघर्षों का सामना करने से कतराते हैं वे जीवन से भी हार जाते है जीवन भी उनका साथ नहीं देता सफलता व कामयाबी की चाहत तो सभी करते हैं

लेकिन उस सफलता को पाने के लिए किए जाने वाले संघर्षों से कतराते हैं मिलने वाली सफलता सबको आकर्षित भी करती है लेकिन उस सफलता की प्राप्ति के लिए किए जाने वाले संघर्ष ( Struggle ) को कोई नहीं देखता ना ही उसकी और आकर्षित होता है ।

जबकि सफलता तक पहुंचने की वास्तविक कड़ी वह संघर्ष ही है हम जिन व्यक्तियों को सफलता की ऊंचाइयों पर देखते हैं उनका भूतकाल अगर हम देखेंगे तो हमें जानने को मिलेगा कि यह सफलता जीवन के साथ बहुत संघर्ष से प्राप्त हुई है ।

जब संघर्षों की बात की जा रही है तो फिर एवरेस्ट पर चढ़ते समय आने वाले संघर्षों की बात क्यों ना की जाए एवरेस्ट की चढ़ाई अत्यंत कठिन चढ़ाई है, पर सफलता ( Success ) पाने का गौरव हासिल करने वाली पहली महिला जुंको ताबेई ( Junko Tabhi ) का कहना है ।

दुनिया के विभिन्न मंचों पर सम्मानित होना अच्छा लगता है लेकिन यह अच्छा लगना अच्छा लगने की तुलना में बहुत कम है।

जिसकी अनुभूति मुझे एवरेस्ट पर कदम रखने के समय हुई थी जबकि वहां तालियां बजाने वाला कोई नहीं था उस समय पहाड़ कंपकंपाती बर्फीली हवा कदम, कदम पर मौत की आहट लड़खड़ाते कदम और फूलती सांसो से संघर्ष के बाद जब में एवरेस्ट पहुंची तो यही लगा कि मैं दुनिया की सबसे खुश इंसान हूं।

वास्तव में जब व्यक्ति अपने संघर्षों से दोस्ती कर लेता है प्रसन्नता के साथ उन्हें अपनाता है उत्साह के साथ चलता है तो संघर्ष का सफर उसका साथ देता है।

और उसे कठिन से कठिन डगर को पार करने में मदद करता है लेकिन यदि व्यक्ति जबरन इसे अपनाता है बेरुखी के साथ इस मार्ग पर आगे बढ़ता है तो वह भी ज्यादा दूर तक नहीं चल पाता बड़ी कठिनाई के साथ ही थोड़ा, बहुत आगे बढ़ पाता है।

जब जीवन में एवरेस्ट जैसी मंजिल हो और उस तक पहुंचने के लिए कठिन संघर्ष का रास्ता हो, तो घबराने से बात नहीं बनती, संघर्ष को अपनाने से ही मंजिल मिल पाती है।

जब हम संघर्ष करते हैं तभी हमें अपने बल व सामर्थ्य का पता चलता है संघर्ष करने से ही आगे बढ़ने का हौसला आत्मविश्वास ( Confidence ) मिलता है और अंततः हम अपनी मंजिल को हासिल कर लेते हैं।

Add Story*
*If you have any motivation story and would like to share with us. We will publish it with your name.

Post a Comment

NEWSLETTER

SUBSCRIBE IN OUR NEWSLETTER

X